top of page

MOTIVATIONAL STORY IN HINDI FOR KIDS | जो होता है अच्छे के लिए होता है (2023)

Motivational Story in Hindi Here you can read many types of Hindi quotes for motivation, motivational story, motivational motivational status, long and short stories in Hindi for success of students.


MOTIVATIONAL STORY IN HINDI FOR KIDS | जो होता है अच्छे के लिए होता है (2023)

Jo hota hai wo achhe ke liye hi hota hai: दोस्तो ये बात तो सभी ने सुनी होगी की को होता है अच्छे के लिए होता है। लेकिन ये कोई नही सोचता की वक्त हमेशा एक जैसा नही रहता वक्त बदलता भी है जैसे रात के बाद ही सुबह होती हैं वैसे ही दुख के बाद सुख आता है आपको मेहनत की आग अपने अंदर जलाए रखना होगी आज के वक्त में जितने लोगो ने भी सफलता पाई है उन्होंने भी कभी न कभी बुरे वक्त का सामना किया ही है तभी वो अब एक सफल इंसान बन पाए है।





एक बार की बात है एक राजा अपने राज्य में खुशी से रहता था उसको किसी भी चीज़ की परेशानी नहीं थी। उस राजा में घमड बहुत था अपने राजा होने पर।


लेकिन उसको सबसे ज़्यादा अच्छा कुछ लगता वो था उसी के राज्य में एक छोटे से हलवाई की दुकान के यहां की मिठाई उस राजा को कुछ मिले या न मिले उसे कहने के बाद उस हलवाई के यहां की मिठाई चाहिए ही थी।


लेकिन एक दिन जब राजा मिठाई खा रहे थे तब उसमे मक्खी मिली। राजा ने उस मिठाई वाले को अपने राज्य से बाहर निकलने का आदेश दिया। हलवाई ने राजा के आदेश का पालन किया और वो उस राज्य से चला गया।


ऐसे ही कुछ वक्त बीत गया एक दिन राजा अपने साथियों के साथ जंगल में शिकार करने गए। जंगल में राजा को कुछ जंगली लोग मिल गए और राजा के सारे साथियों को मार दिया।


राजा अपनी जान बचाने के लिए वहा से भाग गए दो दिन ऐसे ही बीत राजा की हालत बहुत बुरी हो गई थी दो दिन बीतने के बाद राजा एक एक छोटे से गांव में पहुंच गए जब राजा को एक गांव नज़र आया


तब उन्होंने घर घर जाकर मदत मांगी किसी ने उनकी बात नहीं सुनी और जब उन्हें कुछ लोग नज़र तब उन्होंने उनसे भी मदत मांगी लेकिन राजा की हालत इतनी खराब हो चुकी थी की लोग उन्हें भीकारी समझने लगे लोगो ने राजा के सामने कहा "कही और जाकर भीक मांगो" ये सुनकर राजा बहुत उदास हो गया और एक जगह पर बैठ गया


लेकिन कुछ वक्त बाद एक आदमी राजा के पास आया और कहने लगा राजा साहब आप यह कैसे राजा ने जब नज़र उठाकर उस आदमी का चेहरा देखा तब वो दंग रह गए क्युकी वो आदमी और कोई नही बल्कि वो उनका पुराना हलवाई ही था।


राजा ने हलवाई को सारा मामला बताया हलवाई ने कहा अभी आप मेरे साथ मेरे घर चलिए आप वहा आराम भी करलेना और खाना भी खा लेना हलवाई राजा को अपने घर लेकर गया हलवाई ने राजा का ध्यान बहुत अच्छे से रखा अगले दिन जब राजा अपने राज्य में वापस जा रहे थे तब राजा ने हलवाई से कहा मैने तुम्हे छोटी सी बात पर अपने राज्य से बाहर निकाल दिया फिर भी तुमने मेरी इतनी मदत क्यों की? क्युकी महाराज मैं तो ये सोचता हूं कि को होता है अच्छे के लिए ही होता है देखिए अगर आप मुझे उस वक्त अपने राज्य से बाहर नहीं निकालते तो आज आपकी मदत करने के लिए यह कौन होता।



राजा ने हलवाई से कहा तुम हमारे राज्य में वापस लौट आओ लेकिन हलवाई ने ये कहकर मना कर दिया की महाराज यहां आकर मुझे पता चला कि मेरे हाथ की बनाई हुई मिठाई स्वाद में इतनी अच्छी है की या के लोगो को बहुत पसंद आई इसलिए अब मैंने मिठाई का बड़ा कारोबार शुरू किया जो लोगो को बहुत अच्छा चल रहा है। इसली अब मैं आपके राज्य में नही आ सकता। ये सुनकर राजा अपने राज्य वापस चले गए।





सीख:

अगर ज़िंदगी में कभी कुछ बुरा हो तो ये सोकर उदास होकर बैठने से बेहतर है कि आप के साथ में को कुछ भी हुआ है इसमें ऐसी कौन सी अच्छी बात है जो आगे चलकर आपके काम आयेगी जैसे दूसरे गांव आकार भी हार नही मानी वैसे ही आओभी बुरे वक्त में भी हिम्मत और हौसला के साथ मेहनत करते रहो।


अगर आपको motivational story in Hindi पसंद है तो आप हमारी वेबसाइट nazsite  को subscribe ज़रूर करे


   अगर आप किसी आर्टिकल hindi motivation से related कोई भी article हो story, quotes, shayari या फिर biography को हमारी वेबसाइट पब्लिश करना चाहते हैं तो हमारे Email-id : nazsite007@gmail.com पर send करे।


अगर हमे आपका आर्टिकल अच्छा लगा तो हम आपके नाम और फोटो के साथ आपके आर्टिकल को पब्लिश करेगें और फ्यूचर में भी आपके साथ काम करेंगे









614 दृश्य0 टिप्पणी

संबंधित पोस्ट

सभी देखें
bottom of page